Home Top Ad

प्रेरक वक्ता कैसे बनें - How To Become A Motivational Speaker

Share:

प्रेरक वक्ता से पहले बेहतर वक्ता बनें:

प्रेरक वक्ता कैसे बनें
Motivational Speaker

बोलने की शुरुआत करना मुश्किल हो सकता है किन्तु एक बार जब आप ऐसा करते हैं तो यह एक जीवंत और महत्वपूर्ण आनंद का साधन हो जाता है| 

आज मैं आपको कुछ इसी तरह के महत्वपूर्ण बातों को बताऊंगा , अगर आप इनका अनुसरण करते हैं तो निश्चित ही आप एक बहुत अच्छे वक्ता बन सकते हैं लेकिन कुछ भी कहने से पहले एक बात अवश्य कहना चाहूंगा कि कभी भी एक अच्छे वक्ता बनने से पूर्व अच्छे श्रोता होना अत्यंत आवश्यक है| 

जैसा कि आपने देखा होगा ,आपके आस पड़ोस में हर कोई अपनी बात कहना चाहता है तो कोई  कुछ बोलना चाहता है लेकिन कभी किसी की बात सुनना ही नहीं चाहता | इसी कारण से हर कोई आप के आस पड़ोस का यहां तक कि आप भी एक अच्छे वक्ता नहीं बन पाते हैं और बात रही प्रेरक वक्ता बनने की तो एक वक्ता बनने से और भी महत्वपूर्ण बात यह है कि आप क्या बोलते हैं, क्या कहते हैं ,क्या सुनते हैं, क्या करते हैं |

 कल आप को देखते हुए आपके सामने वाला व्यक्ति यदि आप से प्रभावित हो तो उसकी जीवनशैली बदल जाए उसके बोलने का तरीका बदल जाए ,उसके रहने का तरीका बदल जाए,ये सारी चीजें एक प्रेरक वक्ता के अंदर निहित होती है, वह उसे बनाता है और वह उसे अर्जित करता है |

तो चलिए हम कुछ मुख्य बिंदुओं पर प्रकाश डालते हैं जैसे कि....

👉अपने विचारों को विकसित करें(Develop Your Ideas): 


आप यदि सभी के समान पुराने विचारों को फिर से दोहरा कर, अगर आप सोच रहे हैं कि आप सफल वक्ता बन सकते हैं तो ऐसा संभव नहीं है आपको नए प्रासंगिक वस्तुओं को ध्यान में रखते हुए नए-नए विचारों को कहने की आवश्यकता है जो लोग सुनना चाहते हैं | 


आपको यह भी ध्यान देना होगा कि जो दूसरे वक्ता है जो आप से बेहतर हैं अर्थात आप से अनुभवी प्रेरक वक्ता हैं , उन में क्या अंतर है, क्या बताएं कि उनसे क्या चीजें छूट गई हैं और क्या हम बेहतर कर सकते हैं | इन सब को ध्यान में रखते हुए अपनी बात कहनी होगी | अपने विचारों को विकसित करके लोगों तक अपना संदेश पहुंचाना होगा| 

अपने संदेश के बारे में सोचने में बहुत समय लगाएं और आप इसे ऐसे तरीके से लोगों में वितरित करें, जो दर्शक को प्रेरित कर दें ताकि उसकी प्रेरक क्षमता नित्य प्रतिदिन बढ़ती रहे |

👉अपने आदर्श दर्शकों की पहचान करें(Identify Your Ideal Audience): 


अब आपको अपने दर्शकों पर बहुत ही अच्छे तरीके से ध्यान देना होगा, यह सोचना होगा कि आप के दर्शक आपके श्रोता गढ़ आपसे क्या सुनना चाहते हैं, आखिर वह कहां पर कमी कर रहे हैं, उसी कमी को आप अपनी मजबूती बनाइए और अपने विचारों के माध्यम से उन्हें संतुष्ट कीजिए ,यह जरुरी नहीं कि आप केवल बातें ही उनसे कहकर आप उन्हें प्रेरित क्र सकते हैं ,यहाँ तक कि आप एक छोटी सी बात बोल कर भी उनके हृदय पर विजय प्राप्त कर सकते हैं, यदि वह आपसे संतुष्ट होते हैं |

इसलिए स्वयं की समस्याएं बताने के बजाय आप उनकी समस्याओं को ध्यान में रखते हुए उसका समाधान बताने का प्रयास करें और अपनी बातों को बहुत विस्तार में कहने की आवश्यकता नहीं है | आप अपनी बातों को कम से कम शब्दों में ज्यादा प्रभावी तरीके से उनके सामने रखें ताकि ज्यादा समय न लगे ,उन्हें समझने में और ज्यादा व्यर्थ ना जाये आपका समय आपको बताने में | आप वही चीजें बताइए जो आप वास्तव में उन तक पहुंचाना चाहते हैं |

👉अपने तथ्यों का परीक्षण करें(Test Your Content): 


अब बात आती है कि आप जो कहने जा रहे हैं , आपने जो तथ्य तैयार किए हैं , अपनी जो सामग्री साथ लिए हैं उसका अच्छे से परीक्षण कर ले, जिससे बीच में वार्तालाप करने में कोई समस्या उत्पन्न ना हो, आप यह भी देख लें कि आपको किस में से देखकर के कहना है या बिना देखे कहना है, यदि आपके पास पहले से कुछ लिखित रूप में है तो उसमें यह भी देख ले कहीं कोई व्याकरण की गलती तो नहीं है , कहाँ पर प्रश्नवाचक चिन्ह, कहाँ  पर आपका पूरा एक गद्यांश खत्म हो रहा है ,कहाँ पर गद्यांश शुरू हो रहे हैं |  इन सब बातों को ध्यान में रखिए|

मंच पर पहुंचने से पहले इंटरनेट आपको अपनी सामग्री का परीक्षण करने का अवसर देता है, हालांकि ज्यादातर लोगों को चिंता रहती है कि अगर कोई मुफ्त में अपना सबसे अच्छा सामान दे दे तो कोई भी उन्हें नौकरी पर नहीं रखेगा |

लेकिन अगर आप हजारों लोगों को प्रेरित करते हैं या शायद लाखों लोगों को भी, तो आप उनका ध्यान आकर्षित करेंगे और लोग आप से अधिक सुनना चाहेंगे | आप लोगों के बीच में प्रसिद्ध रहेंगे | यह भी एक महत्वपूर्ण जरिया है इस पर भी ध्यान देना होगा |

अपने विचारों को साझा करने के लिए, मूल साझा करने या ब्लॉग शुरू करने के लिए सोशल मीडिया का भी उपयोग करें | आज के वर्तमान समय में सोशल मीडिया है, जो ऐसी चीज है जहाँ पर आपको बड़े से बड़े कई तरह के दर्शक, सौदागर, प्रेक्षक हर तरह के लोग आपसे सोशल मीडिया पर आसानी से मिल सकते हैं | 
आपको समझ जाएंगे | आपके बारे में थोड़ा भी जानेंगे कि आप सही रास्ते पर हैं यदि आप सुनने के लिए तैयार है तो आप के दर्शक आपको यह भी बताएंगे कि आप क्या सुनना चाहते हैं क्या सीखना चाहते हैं आपके पास सुझाव आएंगे और आपको इन सब चीजों को ध्यान में रखते हुए अपने तथ्यों को उसी हिसाब से बढ़ाना होगा बताना होगा| 

👉बोलने की कला का विकास करें(Gain Speaking Skills): 


वास्तव में वर्तमान समय में बहुत ज्यादा प्रतियोगिताएं हो गई हैं, हर एक कदम पर आपका एक नया प्रतिद्वंदी खड़ा हो जाता है, जो अपने आप को आपसे बेहतर होने के लिए पूर्ण रूप से प्रयास करता है | तो इस पर यह बात निकल कर आती है कि जो अच्छा तथ्य है वह तो एक प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए अहम भूमिका निभाता है लेकिन आपके संदेश देने का जो तरीका है ,आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले शब्दों से अधिक महत्वपूर्ण है |

यहां तक कि अगर आपको लगता है कि आप पहले से बढ़िया स्पीकर हैं तो एक अच्छा मौका है कि आप कुछ बुरी आदतों को भी जानें जो आपके अन्दर है और उसे सुधारें | आप जानते हैं कि हम ऐसे शब्दों का उपयोग करने के लिए बात करते हैं जिससे आप अच्छा बन सके |

इसके लिए आपको कुछ और बात पर भी ध्यान देना होगा, जिससे आपकी जो बोलने की कौशल है, कला है और भी ज्यादा सुधारी जा सके | उसके लिए एक समूह में शामिल हो, एक संस्थान में जाकर हिस्सा लें या बेहतर संचार को विकसित करने में आपकी मदद करने के लिए एक बोलने वाले कोच को किराए पर ले अर्थात आप उनसे शिक्षा भी ले सकते हैं ,आप उनसे बात कर सकते हैं जो आप से अनुभवी हो | 

आपके पूरे कैरियर को बनाने के लिए छोटे-मोटे स्पीकर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं| इसके अलावा अपने आप को एक भाषण देते हुए रिकॉर्ड करें और इसे वापस देखें | अपने आप को देखना काफी मुश्किल काम होता है और दर्दनाक भी हो सकता है ,लेकिन आपके हाथ के हाव-भाव ,बॉडी लैंग्वेज ,बोलने की आदतों के बारे में अधिक जानना महत्वपूर्ण है ताकि आप सुधार कर सकें|
अपनी ही बनाई गयी  वीडियो, अपने ही रिकॉर्ड की गई ऑडियो क्लिप बार-बार सुने ,जिससे आपको अपनी कमियां निकालने का पूरा समय मिल सके, जिससे आप अगली बार कभी भी अपना प्रदर्शन कर रहे हो ,तो इस तरह की कोई भी समस्याओं का सामना ना करना पड़े |

👉नि:शुल्क बोलने का प्रस्ताव दें (Offer to Speak for Free): 


एक बार जब आप लोगों के बीच में थोड़ा बहुत प्रसिद्ध हो जाएँ ,आदर्श दर्शकों के बीच में बोलने में सहज भी हो जायें तो आप मुफ्त में बोलने की पेशकश करें , उन स्थानीय संगठनों तक पहुंचे जो आपकी सामग्री से लाभान्वित हो सकें |

देशभर में कई सम्मेलन होते हैं जो बोलने वालों का भुगतान नहीं करते हैं, उनमें से कुछ वक्ताओं को मुफ्त प्रवेश प्रदान करते हैं , लाइव दर्शकों से बोलने का अभ्यास करने में सहायता के लिए उनके लिए बोलने के लिए आवेदन करें |

कुछ लोग मुफ्त में बोलने के लिए अपने व्यस्त होने का कारण देते हैं और कुछ लोग बोलने के लिए भुगतान की प्रतीक्षा करते हैं जब तक उन्हें अच्छे से पैसे नहीं मिलते, नहीं बोलते, लेकिन जब तक आप मांग में ना हो आप प्रसिद्ध ना हो आप के लोगों में ज्यादा से ज्यादा लोगों की चाहत ना हो तब तक आप निःशुल्क बोलने के लिए तैयार रहिए , इससे ज्यादा से ज्यादा लोग आपको जान सकें ,आपकी कीमत बढ़ सके| 

👉खुद का प्रचार करें(Market Yourself): 


एक बार जब आपको लगे कि आप कहीं भी जाने के लिए तैयार हैं तो खुद की मार्केटिंग शुरू करें, खुद का प्रचार-प्रसार शुरू करें, यदि संभव है तो एक वेबसाइट बनाई जो आपको वक्ता दिखाए , अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल में स्पीकर जोड़ें सभी को यह बताएं कि आप जानते हैं कि आप बोलने के लिए काफी इच्छुक हैं किसी भी मुद्दे पर किसी विषय पर अपने विचार रख सकते हैं और यही बोलने का जो मुख्य कारण है यही आपको महत्वपूर्ण स्थान दिलाने में पूर्ण भूमिका निभाता है |

अपनी सामग्री करते जाएं अपनी रचनाएं , अपने विचारों के बारे में ब्लॉग लिखें ,लोकप्रिय साइटों पर अतिथि पोस्ट में लिखें ,किताबें लिखें | अपने विचारों को दुनिया भर में फैला दें ताकि आप एक विषय के रूप में विश्वसनीयता हासिल कर सकें |

किसी भी कार्यक्रम को आयोजित करने वाले कुछ आयोजक कर्ता होते हैं जो तलाश करते रहते हैं,कि कैसे हमें वक्ता मिल जाए जो कम से कम कीमत पर अपनी अच्छी सी अच्छी बात कह सके ताकि हम उसी बजट में हम लोगों के लिए एक अच्छा सा कार्यक्रम का आयोजन कर सके , तो यदि आप इसी तरह के क्रियाकलाप दिखाते रहेंगे तो ,आपकी भाषणों के फोटोज, मीडिया में आपके क्लिप और आपके व्यव्हार से आपके जो संतुष्ट ऑडियंस है ,वो और लोगों के प्रतियोगिता से आपको आगे आने का मौका दे सकते हैं |

👉बोलने के लिए आवेदन करें(Apply to Speak): 


आपको अपने बोलने की कैरियर की शुरुआत करनी है ,इसके लिए आपको जगह-जगह आवेदन करने के लिए सम्मेलनों में जाएं, जहां तक संभव हो छोटी बड़ी हर प्रकार की संगोष्ठी में हिस्सा लें और लगातार पता करते रहे कि कहां पर इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं| 

एक समान संदेश वाले अन्य स्पीकर को थोड़े और देखें कि वह कहां बोल रहे हैं ,आप आयोजकों को दिखाने के लिए पहुंच सकते हैं और उनसे भविष्य में होने वाली घटनाओं को ध्यान में रखने के लिए कह सकते हैं यह कह सकते हैं कि भाई अगर कभी भी आगे ऐसी छोटी-मोटी व्यवस्था हो तो आप मुझे भी एक अवसर दीजिएगा | 

इस तरह मेरा कैरियर आगे बढ़ने में आपका सहयोग मिलता रहे ,आपका बोलने का कैरियर जितना बढ़ता है बोलने की अवसरों के लिए आपको उतना ही कम आवेदन करना होगा , आखिर कर लोग आपको तलाश लेंगे और अगर आप अच्छा कर रहे हैं तो स्पीकर ब्यूरो आप का प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं और वह घटनाओं के लिए एक वक्ता के रूप में आप का विपणन करेंगे , आपके शुल्क का 1% लेंगे लेकिन वह आपको कुछ भुगतान करने वाले लोगों से प्रस्ताव प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं |


धन्यवाद !!!



No comments

Please do not enter any spam link in the comment box.